Home / Personality / जीवन के प्रति धन्यवाद – Feeling of Gratitude

जीवन के प्रति धन्यवाद – Feeling of Gratitude

Feeling of Gratitude (जीवन के प्रति धन्यवाद)

दोस्तों! आज gratitude के बारे में बात करते हैं – A feeling of thankfulness. कितने लोग हम में से ऐसे हैं हो सुबह उठते ही परमात्मा का शुक्रिया अदा करते हैं,जीवन के प्रति शुक्रिया अदा करते हैं कि ए मालिक मैं आज जीवित हूँ! हे परमात्मा तेरा शुक्र है कि I am alive! मैं जीवित हूँ और स्वस्थ भी हूँ! कितने लोग ऐसा करते होंगे? क्या आप ऐसा करते हैं?

 

क्या परमात्मा का शुक्रिया करना हमें आता है?क्या हमने आदत डाली हुई है उसका शुक्रिया करने की या जीवन को एक बोझ की तरह ढो रहे हैं? कितने ही लोग आत्म-हत्या करते हैं,क्यों?उनको जीवन एक बोझ लगने लग जाता है! इतना सुन्दर दिया हुआ जीवन,इतना खूबसूरत जीवन उनको बोझ लगता है,शायद उन्होंने जीवन में gratitude,thankfulness को जाना ही नहीं!इसलिए दोस्तों!जीवन में इस भावना को लेकर आना है,इस व्यवहार को लेकर आना है – thankfulness.

Be thankful to the creator,to everybody whosoever does something good for you. इतना सुन्दर उसने जीवन दिया है, इस जीवन को संभालने के लिए इतने अच्छे दोस्त दिए हैं,इतना सुन्दर परिवार दिया है,माँ-बाप दिए हैं,कितनी बार हम इन सबके प्रति धन्यवाद अदा करते हैं? कुछ चीज़ें हमें मिल जाती हैं तो हम उन्हें for-granted लेना शुरू कर देते हैं,यह मानव स्वभाव है! हमारी दृष्टि केवल उन बातों पर रहती है जहाँ पर हमें कुछ नहीं मिला होता,कुछ कमी होती है,हमारे मन की पूरी कार्यवाही कमी को पूरी करने पर ही निर्धारित है!आपके जीवन में 999 चीज़ें अच्छी होँ और एक भी गलत हो, आप देखेंगे आपका मन बार-बार उस 1 चीज़ के बारे में सोचता है, 999 चीज़ों को वो भूल जाता है, यहीं से हमारे दुखों की शुरुयात होती है!पहले उन 999 चीज़ों के लिए शुकराना तो कर लें,कोई एक चीज़ कुदरत ने नहीं दी,पता नहीं उसके पीछे क्या कारण होगा? इसलिए जो मिला है, उसके लिए शुकराना करें – A feeling of thankfulness is very very important particularly for this life. अगर आप अपने जीवन में खुशियाँ चाहते हैं, आनंद चाहते हैं तो thankfulness की भावना को लेकर आईये,gratitude को लेकर आईये!

जीवन के प्रति शुकराना लेकर आईये, छोटी छोटी बात के लिए सामने वाले को जताइये, उसको thanx कीजिये!

देखिये आप घर से बाहर निकलते हैं, मान लीजिए आपका purse घर से बाहर निकलते गिर जाता है,आपकी पत्नी पीछे खड़ी हुयी है,बच्चा पीछे खड़ा हुआ है,उसने देख लिया और immediately purse आपको उठाकर दे दिया, क्या आप उनको thanx करते हैं? अगर नहीं करते तो विचार कीजियेगा कि अपनी पत्नी है, अपना बच्चा है, कहीं हमने उन्हें for-granted तो नहीं ले लिया? सदा सदा के लिए मान लिया कि अपने हैं इसलिए thanx करने की क्या जरुरत है? अपना ही तो है!

अपने अपनों को धन्यवाद दीजिए. इससे रिश्तों में हरियाली बनी रहेगी.

और अगर यही purse हमारा गिरा होता और किसी stranger ने हमें उठा के दिया होता तो हमारे भाव क्या होते? हमने उसको कई बार शुकराना किया होता क्योंकि उसमे हमारा ATM card है,उसमे हमारा purse है, उसमे चाबियाँ हैं और पता नहीं क्या क्या है, इस तरह का purse खो जाता,पता नहीं हमें कितने दुःख उठाने पड़ते, जिसने दिया है उसका हम शुकराना करें!

जैसे हमारा strangers के प्रति thankfulness का भाव होता है वैसे ही उन लोगों के प्रति भी thankfulness का भाव लायें जो हमारे अपने हैं! thankfulness का भाव बहुत ज़रुरी है,

घर में अपनी पत्नी के लिए, अपने बच्चे के लिए, अपने माता-पिता के लिए, बाकी रिश्तेदारों के लिए, इसीप्रकार office में अपने colleagues के लिए, अपने sub-ordinates के लिए,अपने boss के प्रति हम thankfulness का भाव करते ही हैं लेकिन नीचे वालों के लिए भी हम अपना thankfulness का भाव बनाए रखें!खाना खाते जिन्होंने खाना बनाया है, उनके प्रति thankfulness!

 

देखिये जीवन में इतने छोटे छोटे changes इतना बड़ा बदलाव ला सकते हैं,आप thanx कहकर देखिये कितना दिल खिल जाता है,कोई आपको thanx बोले कितनी खुशी महसूस होती है, देखिये plastic वाला thankfulness नही, plastic smile वाला thanks हम कह देते हैं “thankyou”,बड़ा फर्क है,एक खूबसूरत सी smile के साथ दिल खोलकर कह के देखिये “thank you”, बहुत फर्क होता है, it will bring a lot of change in your life,बहुत कुछ बदल जाएगा,बहुत कुछ सुन्दर हो जाएगा,जितना अब तक है उससे और भी सुन्दर हो जाएगा!

so wishing you very best of luck for your future!

https://www.youtube.com/watch?v=0T2d866tZqU

THANK YOU FOR WATCHING THIS POST!!!

(Visited 1,925 times, 4 visits today)

One comment

  1. बहुत ही ताकतवर बात है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*