Home / DMIT & MIDBRAIN / You are Unique & Intelligent

You are Unique & Intelligent

You are born Intelligent

That person is very intelligent” यह वाक्य हम तब कहते हैं जब हम किसी की प्रशंसा करते हैं. पर हम में से अधिकतर लोग बुद्धिमान उसी व्यक्ति को समझते हैं जो बहुत पढ़ा लिखा होता है. अपने academics में अच्छे marks लाता है और दी गयी किसी भी problem को तुरंत solve कर लेता है पर शायद ऐसा सोच कर हम बुद्धि के बहुत ही विस्तृत रूप को संकुचित कर देते है.

माता- पिता कई बार इस बात को ले कर शर्मिंदा होते हैं कि उनका बच्चा कम अंक ले कर आया है और अपनी सारी ताकत उसे ये समझाने में लगा देते हैं कि इस दुनिया में अगर कुछ करना है तो अच्छे marks लाओ जबकि शायद वे यह नहीं जानते कि ऐसा करके वे अपने बच्चे के जीवन के एक ऐसे पहलू को उभरने से रोक रहें हैं जो उसकी सफलता का असली कारण हो सकता है.

 

एक ऐसा बच्चा जो किसी competitive exam को clear नहीं कर पाया पर अपने माता पिता की feelings को बहुत अच्छे से समझता है और उनकी हर आज्ञा का पालन करता है तो क्या ऐसे बच्चे को आप intelligent लोगों की category में नहीं रखेंगे? क्या एक अच्छा गायक बुद्धिमान नहीं, सड़क पर गाड़ी ठीक करनेवाला mechanic या जूते बनाने वाला मोची बुद्धिमान नहीं या stage पर dance करनेवाला dancer बुद्दिमान नहीं? क्या आप ये सारे काम कर सकतें हैं? शायद आप ये नहीं जानते कि intelligence भी कई type की होती है जैसे-

 

1) Linguistic Intelligence – इसमें language, vocabulary या statements से related कार्यों की कुशलता होती है जैसेकि writers में.

2) Logical -Mathematical Intelligence – इसमें तर्क करने या अंकों से related कुशलता होती है. जैसे की mathematicians या scientists में.

3) Visual Spatial Intelligence – इसमें figures को मानसिक रूप से change करने की कुशलता होती है जैसे की pilots, painters में.

4) Body -Kinesthetic Intelligence – इसमें body movements से related कुशलता होती है जैसेकि gymnastics या dancers में.

5) Intrapersonal Intelligence – जिसमे अपने emotions को समझने और monitor करने की ability को रखा गया है.

6) Interpersonal Intelligence – इसमें दूसरे व्यक्तियों की need तथा भावनाओं को समझने की कुशलता होती है.

7) Naturalistic Intelligence – यह natural चीज़ों को समझने की ability से related है. जैसे zoologists,mountaineers etc.

ये सोचना बिल्कुल ही व्यर्थ होगा कि जो व्यक्ति अपने academics में अच्छा कररहा है वो अपने भविष्य में भी अच्छा ही जीवन व्यतीत करेगा. कई बार ऐसा भी देखा गया है कि अपने professional life में सफल होने के बाद भी लोग अपने personal life में असफल हो जाते हैं. बल्कि वो व्यक्ति जो पढ़ाई में कहीं पीछे होता है अपनी personal life में बहुत खुशहाल हो सकता है और उसके साथ लोग ज्यादा enjoy भी करते हैं. ऐसे कई व्यक्ति हैं जिन्होंने अपने स्कूल के दिनों में बहुत अच्छे अंक प्राप्त नहीं किये पर आज पूरी दुनियां उनको जानती है क्योंकि उन्होंने अपनी abilities को पहचाना और अपने सपनों का पीछा करना नहीं छोड़ा. जैसे दुनियां के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर Sachin Tendulkar और Microsoft founder, Bill Gates, जिन्होंने बहुत पहले ही अपनी पढ़ाई छोड़ दी थी. महान वैज्ञानिक Edison जिनकी माँ ने उन्हें स्कूल से इस लिए बीच में ही निकाल लिया क्योंकि teachers उन्हें slow learner कहते थे, Charles Darwin को कौन नहीं जानता, जिनके अपने पिता और teachers उन्हें एक बहुत ही average student consider करते थे और भी बहुत सारे प्रसिद्द लोग हैं जिन्होंने अपने जीवन में अपने grades या marks को importance ना देकर अपनी real ability और अपने dreams पर focus किया.

Researches से ये साबित हो चुका है कि जीवन की सफलताओं में IQ ( Intelligence Quotient ) का योगदान सिर्फ 20 % है जबकि EQ (Emotional Quotient) का योगदान 80 % होता है. जिन व्यक्तियों में EQ अधिक होता है वे अपने emotions और दूसरों के emotions को अच्छे से manage कर पाते हैं और समझ पाते हैं. ऐसे लोग अपनी personal life में सफल रहते हैं और जीवन की कई परेशानियों को बहुत ही आसानी से सुलझा लेते हैं.

आप कितने intelligent हैं ये कई बार आपका समाज भी तय करता है जिसमें आप रहते हैं. जैसेकि Western countries में technological intelligence को अधिक importance दिया जाता है पर Eastern countries में Integral intelligence ( जो सबके साथ अच्छे सम्बन्ध बनाये और सबसे मिल के रहे) को importance दिया जाता है.

sd

इस दुनिया में रहने वाले हर व्यक्ति को ईश्वर ने ऊपर बताई गयी किसी न किसी intelligence से ज़रूर सुसज्जित किया है. हर व्यक्ति में बुद्धि के ये सभी पहलू present होते हैं पर कोई एक प्रकार अधिक उजागर होता है. इसलिए अपने आप को किसी से भी कम समझने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यह देखना भी एक रोमांच होगा कि इन प्रकारों में से आपका सबसे उजागर पहलू कौन सा है. बस ज़रुरत है तो उसे पहचान कर निखारने की. किसी भी एक प्रकार की बुद्धि आप को जीवन में सफल बनाने में उतनी ही कारगर होगी जितनी की कोई दूसरे प्रकार की.

“तो हुए ना आप अन्य बुद्धिमानों में से एक बुद्धिमान”

For more related articles click below:

http://mindguruindia.com/types-of-multiple-intelligence/

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*