Home Mind PowerAffirmations अनुशासन (Self Discipline) – आत्म-सुझाव

अनुशासन (Self Discipline) – आत्म-सुझाव

by mindguru

अनुशासन (Self Discipline) – आत्म-सुझाव

अनुशासन क्या है? अनुशास्यते नैन। अर्थात स्वयं का स्वयं पर शासन। अनुशासन शब्द तीन शब्दों से मिलकर बना है। अपने ऊपर स्वयं शासन करना तथा शासन के अनुसार अपने जीवन को चलाना ही अनुशासन है।

हमारे जीवन मे ‘अनुशासन’ एक ऐसा गुण है, जिसकी आवश्‍यकता मानव जीवन में पग-पग पर पड़ती है। इसका प्रारम्‍भ जीवन में बचपन से ही होना चाहिये ओर यही से ही मानव के चरित्र का निर्माण हो सकता है । अनुशासन शब्द तीन शब्दों से मिलकर बना है – अनु, शास्, अन, । विशेष रूप से अपने ऊपर शासन करना तथा शासन के अनुसार अपने जीवन को चलाना ही अनुशासन है ।

(I do everything in right order and in time – आत्म-सुझाव)
मैं अपना हर कार्य सही समय पर करता हूँ.

  • मैं अपने सभी कार्यों को proper planning से करता हूँ.
  • अपने सभी कार्यों का प्रबंध कुशलतापूर्वक करता हूँ.
  • I am self-motivated person.
  • सब मुझसे प्रेरणा लेते हैं. / I am highly motiveted person.
  • कार्य करते समय मैं अपनी एकाग्रता बनाए रखता हूँ. / मैं अपने हर कार्य पर पूरा ध्यान देता हूँ.
  • ज़्यादा कार्य करने पर मैं अपना धैर्य बनाए रखता हूँ.
  • अलग अलग कार्यों को एक साथ करते हुए मैं अपना मानसिक संतुलन बनाए रखता हूँ.
  • मैं छोटे बड़े कार्यों के बीच बहुत सरलता से सामंजस्य(balance) बना सकता हूँ.
  • कार्य शुरू करने से पहले मैं कुछ देर उस कार्य पर विचार करता हूँ.
  • अलग-अलग कार्यों को अपने time table के हिसाब से करता हूँ.
  • अपने कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर करता हूँ. / अधिक महत्वपूर्ण कार्यों को मैं पहले करता हूँ.
  • अपने कार्यों के प्रबंधन के लिए कुशल लोगों की मदद लेता हूँ.
  • मैं बड़े लाभ के लिए, छोटे नुकसान को नज़रअंदाज़ करता हूँ.
  • मैं अपने कठिन कार्य सरल तरीके से करता हूँ.
  • मैं बड़े कार्यों के shortcuts बहुत जल्दी ढूंढ लेता हूँ.
  • मैं हर काम को तुरंत करने की कोशिश करता हूँ.
  • मेरे सभी कार्य एक ही बार में कुशलता पूर्वक हो जाते हैं.
  • मैं एक साथ कई कार्य करने की क्षमता रखता हूँ.
  • मैं सकारात्मक परिणाम की आशा के साथ कार्य शुरू करता हूँ.
  • विपरीत परिस्थितियों में भी मुझे कार्य में सफलता प्राप्त होती है.
  • मैं अपनी हर गलती से कुछ नया सीखता हूँ.
  • गलती होने पर उसे सुधारता हूँ.
  • विफलताएं मुझे आगे बढ़ने की प्रेरणा देती हैं.
  • सफलताएँ मेरे काम की गति बढ़ाती हैं.
  • मैं अपने हर कार्य को उसकी निर्धारित समय सीमा में खत्म कर लेता हूँ. / मैं अपने कार्यों को सही समय पर पूरा करने में पूर्ण रूप से सक्षम हूँ.
  • सकारात्मक सोच मेरे कार्य प्रबंधन मे सहायक होती है.
  • मैं अच्छे कार्यों की खुले दिल से प्रशंसा करता हूँ.
  • मेरा हर कार्य बहुत जल्दी हो जाता है.
  • नए नए ideas से मैं अपने काम को अंजाम देता हूँ.
  • किसी भी कार्य को करना मेरे लिए बहुत सरल है.
  • मैं अपने काम को अलग अलग तरीकों से कर सकता हूँ.
  • मुझे अपने सभी कार्यों का पूरा ज्ञान है.
  • मैं किसी भी कार्य का निर्णय logically सोच कर ही लेता हूँ.

Related Articles

1 comment

Nishant Raj December 1, 2018 - 2:16 pm

बहुत बढ़िया सर आपने जो पॉइंट्स दिया है

Reply

Leave a Comment